Saturday, July 13, 2024
HomeBikanerबीकानेर संसदीय क्षेत्र में 966 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग/सीसीटीवी के जरिए होगी...

बीकानेर संसदीय क्षेत्र में 966 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग/सीसीटीवी के जरिए होगी निगरानी

Facility to make card at office or home available
बीकानेर संसदीय क्षेत्र में 966 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग/सीसीटीवी के जरिए होगी निगरानी
बीकानेर, 12 अप्रैल । निष्पक्ष, पारदर्शी और निर्भीक चुनाव संपादित करने के लिए 19 अप्रैल को मतदान प्रक्रिया के दौरान बीकानेर संसदीय क्षेत्र के 966 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग के जरिए निगरानी रखी जाएगी। जिला निर्वाचन अधिकारी नम्रता वृष्णि ने बताया कि बीकानेर जिले के 844 तथा अनूपगढ़ विधानसभा क्षेत्र में 122 बूथों पर वेब-कास्टिंग की व्यवस्था की गई है।  सभी विधानसभा क्षेत्रों में विभिन्न मतदान केंद्रों की कमरों के माध्यम से सतत निगरानी होगी। उन्होंने बताया कि खाजूवाला विधानसभा क्षेत्र में 110, बीकानेर पश्चिम में 99, बीकानेर पूर्व में 106, कोलायत में 137, लूणकरणसर 119 ,डूंगरगढ़ में 129, नोखा विधानसभा क्षेत्र में 144 तथा अनूपगढ़ में 122 मतदान केंद्रों पर वेब कास्टिंग की व्यवस्था की गई है। इन बूथों पर मतदान प्रक्रिया के दौरान लाइव निगरानी रहेगी। नोखा विधानसभा में सर्वाधिक मतदान केंद्रों पर कैमरे से लाइव प्रसारण की व्यवस्था की गई है।
लाईव वेबकास्टिंग किए जाने वाले मतदान केंद्रों को लिंक माध्यम से विभिन्न स्तरों पर मॉनिटर किया जाएगा । जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि लाइव मॉनिटर का एक लिंक रिटर्निंग अधिकारी के पास उपलब्ध होगा । एक लिंक सीईओ राजस्थान को भी उपलब्ध करवाया जाएगा, जहां से भी सभी गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी।
जिला निर्वाचन अधिकारी वृष्णि ने बताया कि मतदाता निर्भीक होकर मतदान कर सकें इसके लिए वनरेबल हेमलेट वाले स्थानों पर विशेष नजर रखी जा रही है साथ ही एस एस टी और सेक्टर अधिकारियों द्वारा भी इन क्षेत्रों में विशेष रूप से सक्रिय  किया गया है। माइक्रो आब्जर्वर भी ऐसे बूथ के संबंध में सूचनाएं उपलब्ध करवाएंगे। कोई भी व्यक्ति मतदाताओं को प्रभावित करने, आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन व चुनाव प्रकिया में जुड़ी अन्य शिकायत सी विजिल एप पर कर सकता है । शिकायत व सुझाव टोल फ्री नंबर 1950 पर भी किए जा सकते हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि  कानून व्यवस्था का उल्लंघन करते पाए जाने पर किसी भी व्यक्ति के साथ रियायत नहीं बरती जाएगी। प्रत्येक मतदाता बिना किसी दबाव के अपने संवैधानिक अधिकार का प्रयोग कर सके इस संबंध में निर्वाचन आयोग द्वारा दिए गए निर्देशों की सख्ती से अनुपालना करवाई जा रही है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments