Saturday, July 13, 2024
HomeBikanerप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सामने चुनाव लड़ेगा बीकानेर संभाग का यह युवा...

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सामने चुनाव लड़ेगा बीकानेर संभाग का यह युवा कलाकार

Facility to make card at office or home available

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सामने चुनाव लड़ेगा बीकानेर संभाग का यह युवा कलाकार 

बीकानेर न्यूज। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मिमिक्री करने वाले श्याम रंगीला अब पीएम के सामने चुनाव लडऩे जा रहे हैं। श्याम रंगीला वाराणसी लोकसभा सीट से पीएम मोदी के सामने निर्दलीय नामांकन दाखिल करेंगे। उन्होंने अपने एक्स अकाउंट पर भी पोस्ट शेयर की। इस पर जब उनके इस फैसले को लेकर बातचीत की गई। रंगीला ने कहा- मैं 2014 तक नरेंद्र मोदी का भक्त था। लेकिन पिछले 10 साल में उन्होंने जिस तरह से कामकाज किया है। इससे मैं पूरी तरह हताश और निराश हूं। यही कारण है कि मैंने उनके सामने चुनाव लडऩे का फैसला किया है।

श्याम रंगीला ने कहा- 2014 में मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बहुत बड़ा भक्त था। तब मैंने प्रधानमंत्री के पक्ष में काफी वीडियो शेयर किए। राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल के खिलाफ वीडियो शेयर किए थे। जिन्हें देख कोई यह कह सकता है कि मैं अगले 70 साल भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में ही वोट करूंगा। पिछले 10 साल में ही हालात बदल गए और मुझे नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनावी मैदान में उतरना पड़ रहा है।

श्याम ने कहा कि लगभग 2 साल पहले मेरी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात हुई थी। इसके बाद मैंने राजस्थान में आम आदमी पार्टी में शामिल होने का फैसला किया लेकिन राजस्थान में आम आदमी पार्टी की स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं थी।

अब मैंने किसी भी राजनीतिक दल के बिना चुनाव लडऩे का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि मैं सिर्फ कॉमेडी करता हूं, लेकिन वाराणसी में मैं राजनीति करने के लिए जा रहा हूं। जबकि प्रधानमंत्री पिछले 10 साल में राजनीति के जरिए सिर्फ कॉमेडी करने का काम कर रहे हैं। उन्होंने लोकतंत्र को तहस-नहस करने का काम किया है।

न जाने कौन कब अपना नामांकन वापस ले ले

श्याम रंगीला ने कहा- इस बार के लोकसभा चुनाव में न जाने कौन कब अपना नामांकन पत्र वापस ले ले। इसलिए मैंने निर्दलीय ही चुनाव लडऩे का फैसला किया है। मैं कम से कम यह कहने के लिए वहां पर खड़ा रहूंगा कि यहां पर लोकतंत्र खतरे में नहीं आने देंगे। वाराणसी के लोगों को वोट के लिए विकल्प मिलेगा। सूरत और इंदौर जैसी स्थिति नहीं होगी। इसके लिए इसी सप्ताह मैं पहली बार बनारस जाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपना नामांकन पत्र दाखिल करूंगा। वहां मैं उनकी तरह जनता से झूठे वादे तो नहीं करूंगा, लेकिन हकीकत में जो काम वहां की जनता के लिए होने चाहिए थे। उस पर उनसे बात जरूर करूंगा।

श्याम ने कहा कि जिस तरह से राजस्थान में धर्मेंद्र ने आकर चुनाव लड़ा था। उसी तरह मैं भी वहां जाकर चुनाव लड़ूंगा। हालांकि मैं इतना बड़ा सुपरस्टार नहीं हूं कि मैं अपनी जीत का दावा करूं। मैं वहां की जनता की परेशानियों में उनके साथ भविष्य में खड़ा रहूंगा। पिछले 10 साल में मोदी जी ने जो वादे किए थे, उनमें से कितने पूरे हुए इसकी हकीकत जनता को समझाऊंगा। मैं निर्दलीय लड़ रहा हूं। मेरे पास प्रधानमंत्री जितने संसाधन तो नहीं हैं, इसलिए जमीन और सोशल मीडिया के जरिए मैं ज्यादा से ज्यादा लोगों तक अपनी बात पहुंचाने का वहां काम करूंगा।

श्रीगंगानगर जिले के रहने वाले हैं रंगीला, राजनेताओं की मिमिक्री से आए थे सुर्खियों में

बता दें कि श्याम रंगीला मूल रूप से राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के रहने वाले हैं। साल 2014 में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मिमिक्री कर काफी सुर्खियां बटोरी थी। इसके बाद इंडिया गोट टैलेंट रियलिटी शो में उनका सिलेक्शन हुआ। जहां उन्होंने देश के कई प्रसिद्ध राजनेताओं की मिमिक्री कर सुर्खियां बटोरी थी। हालांकि अपनी मिमिक्री और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर व्यंग को लेकर श्याम कई बार विवादों में घिर चुके हैं। पिछले साल उन्होंने देश में लगातार बढ़ते पेट्रोल के दाम को लेकर सोशल मीडिया पर अपना वीडियो पोस्ट किया था। इसके बाद उनके खिलाफ सोशल मीडिया पर अभियान शुरू हो गया था। वहीं पिछले साल उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरह जंगल पहुंच वाइल्डलाइफ प्रोटेक्शन एक्ट का उल्लंघन कर दिया था। इसके बाद उन्हें 25 हजार रुपए का जुर्माना भी भुगतना पड़ा था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments